खास उमर और उंचाई के पहुच पर आम : दो चित्र

मेरे घर के 'कोलाबारी' मे आम के दो अलग अलग प्रजाति के पेड लगे हैं. बड़ा पेड़ लगभग बारह फिट उंचा है और छोटा लगभग पांच फुट. दोनों नें इस वर्ष कोयलों के कूक को नियमित रखते हुए हमारी सेवा का फल गिनती में ही सहीं पर दिया है. देखें दोनों भाइयों को आपने अपने पेड़ पर फले आमों से आत्मीयता बनाते हुए -


देशी आम के पकने के इंतजार में पेड पर पाईपों के सहारे अपना मचान में खड़ा अनिमेश


दशहरी आमो पर अपना हक जताता क्षितिज 

* 'कोलाबारी' : घर से लगे बगिया को छत्तीसगढ़ी में कोलाबारी कहा जाता है. 

7 comments:

  1. बने फ़रे हे आमा कोलाबारी मा
    दु चार अमरा दे हमरो दुवारी मा


    जोहार ले

    ReplyDelete
  2. आहो बेंदरा के मारे नई बांचे कोलाबारी रे।

    ये दे दु ठीक बेंदरा घलों चघे हे।:)

    ReplyDelete
  3. लालच आ रहा है हमें तो!!

    ReplyDelete
  4. भईया खाने को मन हो रहा है ।

    ReplyDelete
  5. चित्र दिखा कर तो ललचा रहे हैं .....

    ReplyDelete

.............

संगी-साथी

ब्‍लॉगर संगी